• Monday, August 10, 2020
Breaking News

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ का पत्र सोशल मीडिया पर वायरल, लापरवाह कर्मचारियों की मांगी सूची

मध्यप्रदेश May 01, 2019       670
मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ का पत्र सोशल मीडिया पर वायरल, लापरवाह कर्मचारियों की मांगी सूची

द करंट स्टोरी।  भोपाल। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ का अपने कार्यकर्ताओं को लिखा एक पत्र सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है, जिसमें उन्होंने ऐसे अधिकारियों और कर्मचारियों की सूची मांगी है, जिन्होंने प्रथम चरण के चुनाव में कथित तौर पर निष्पक्षता नहीं रखी।

पत्र में श्री कमलनाथ ने लिखा है कि चुनाव आयोग ने निष्पक्ष चुनाव के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कार्यकर्ताओं से कहा है कि वे उन सभी अधिकारियों और कर्मचारियों की सूची मध्यप्रदेश कांग्रेस समिति को भजें, जिन्होंने पहले चरण के चुनाव के दौरान निष्पक्षता नहीं बरती या चुनाव कार्य के दौरान लापरवाही बरती।

मुख्यमंत्री ने ऐसे सभी कर्मचारियों के नाम, विभाग और पद की जानकारी मांगी है। ये पत्र सभी लोकसभा प्रत्याशियों और पार्टी जिलाध्यक्षों को भेजा गया है।

मध्यप्रदेश में कुल चार चरणों में चुनाव होने हैं। पहले चरण में 6 लोकसभा क्षेत्रों सीधी, शहडोल, जबलपुर, बालाघाट, मण्डला और छिंदवाड़ा में 29 अप्रैल को मतदान हो चुका है। पांचवे चरण में सात लोकसभा क्षेत्र टीकमगढ़, दमोह, सतना, रीवा, खजुराहो, होशंगाबाद और बैतूल लोकसभा क्षेत्र में छह मई को मतदान होना है। छठवें चरण में आठ संसदीय क्षेत्रों मुरैना, भिंड, ग्वालियर, गुना, सागर, विदिशा, भोपाल और राजगढ़ में 12 मई मतदान तिथि है। सातवें और अंतिम चरण में आठ लोकसभा क्षेत्रों देवास, उज्जैन, इंदौर, धार, मंदसौर, रतलाम, खरगोन और खंडवा में 19 मई को मतदान होगा। मतगणना 23 मई को होगी।

Related News

मप्र में ट्रक ऑपरेटर 3 दिन की हड़ताल पर

Aug 10, 2020

द करंट स्टोरी। मध्यप्रदेश में परिवहन विभाग की चौकियों पर हो रहे भ्रष्टाचार और डीजल पर बढ़ा हुआ वैट लागू किए जाने के विरोध में ट्रक ऑपरेटर सोमवार से तीन दिन की हड़ताल पर चले गए हैं। हड़ताल का राज्य में माल के परिवहन पर असर पड़ने की संभावना बनी हुई है। ट्रक ऑपरेटर एवं टांसपोर्ट एसोसिएशन का कहना है कि मप्र में चौकियों पर सबसे ज्यादा भ्रष्टाचार है। इन चौकियों पर अवैध वसूली की...

Comment