• Thursday, May 23, 2019
Breaking News

न तो यूपीए न ही एनडीए सरकार बनाने जा रही है: ममता बनर्जी

Exclusive Apr 18, 2019       52
न तो यूपीए न ही एनडीए सरकार बनाने जा रही है: ममता बनर्जी

द करंट स्टोरी। कांग्रेस के कैंपेन 'अब नया होगा' और गरीबों को 6000 प्रति माह देने के वादे पर ममता ने कहा कि जब हम कोई कॉमन मिनिमम एजेंडा पर काम करते हैं तो सभी के विचारों को देखना होता है.

हमें तोड़ने का कोई सवाल ही नहीं उठता और भाजपा इस लोकसभा चुनाव में बंगाल में मौजूद अपनी दो सीटें भी खो देगी. यह बात पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने नेटवर्क18 के एडिटर-इन-चीफ राहुल जोशी से खास बातचीत के दौरान कही.

ममता से जब यह पूछा गया कि चर्चा है कि यह चुनाव आपके बनने या खत्म होने का सवाल होगा. यह या तो आपको पीएम बना सकता है या फिर आप बंगाल की मुख्यमंत्री की सीट भी खो देंगी, इस पर क्या कहना है, तो वो थोड़ी तल्‍ख हुईं. उन्होंने कहा कि ऐसा कोई सवाल ही नहीं है और बनाने की बात कहां से आ गई. कई क्षेत्रीय पार्टियां ऐसी हैं जो अब नेशनल पार्टियां बन गई हैं. टीएमसी भी उन्हीं में से एक है. ऐसा ही एनसीपी, सपा और बसपा के मामले में भी है. हम अपनी रणनीति साथ बनाएंगे. जीतना और खोना मुख्य बात नहीं है. देश को बचाना हम सभी की पहली चिंता है, न कि व्यक्तिगत लाभ या लक्ष्य.

हम ही हैं नंबर 1

ममता के सामने बीजेपी के बढ़ते प्रभाव के आंकड़े रखे गए और बताया गया कि बीजेपी का वोट शेयर 2009 में दस प्रतिशत था जो बढ़कर 2014 में 17 प्रतिशत हो गया. इस पर बड़ी सहजता से उन्होंने कहा, देखिए सीपीएम के कुछ लोगों ने बीजेपी का दामन थाम लिया है. एक पक्ष होता है और एक विपक्ष, ऐसे में हमारी सरकार है और हम ही नंबर एक हैं. अब ऐसे में वोट शेयर यह निर्धारित करेगा कि सीपीएम, कांग्रेस या बीजेपी में से कौन विपक्ष के तौर पर आता है. बीजेपी केंद्र में शक्तिशाली है और वे ईडी व सीबीआई जैसे संस्‍थानों के जरिए लोगों को धमका सकते हैं. ऐसे में सीपीएम के कुछ कार्यकर्ता, साथ ही कांग्रेस के भी कुछ लोग बीजेपी में चले गए हैं. जब बीजेपी पावर में नहीं रहेगी तो सभी उसका साथ छोड़ देंगे.

तब 42 में से थी सिर्फ एक सीट

विधानसभा चुनावों को देखते हुए राज्य में यदि बीजेपी की बढ़त ऐसी ही रहती है तो क्या यह बड़ी चुनौती होगी, यह पूछने पर ममता ने कहा कि कुछ भी नहीं होगा. 2004 की बात की जाए तो हमारा वोट शेयर 30 प्रतिशत था, लेकिन 42 में से सिर्फ एक सीट हमारे खाते में थी. वहीं बीजेपी को 2014 का वोट शेयर 31 प्रतिशत था, लेकिन दिल्ली में उन्होंने सरकार बनाई. यह ऐसे काम नहीं करता है.

संयुक्त मोर्चे के विचार से सभी सहमत हैं

चंद्रबाबू नायडू, अखिलेश और तेजस्वी से बातचीत और संयुक्त मोर्चे के सवाल पर ममता ने कहा कि हां यह सही है कि मैं सभी से संपर्क में हूं. हम सभी साथ हैं और मेरे सभी से अच्छे संबंध हैं. बसपा सुप्रीमो मायावती से संबंध की बात पर उन्होंने कहा कि मेरे उनसे काफी बेहतर संबंध हैं.

सभी को भरोसे में लेकर करना होगा फैसला

कांग्रेस के कैंपेन 'अब न्याय होगा' और गरीबों को 6000 रुपये प्रति माह देने के वादे पर ममता ने कहा कि जब हम कोई कॉमन मिनिमम एजेंडा पर काम करते हैं तो सभी के विचारों को देखना होता है. मैं यह निर्णय करने में सक्षम नहीं हूं कि हम क्या करेंगे. सभी को भरोसे में लेकर काम करना होगा. जब हम ऐसा करेंगे तो उसके लिए विचार विमर्श होगा और हम सभी साथ बैठकर हर बिंदु पर बातचीत कर निर्णय लेंगे.

कांग्रेस अकेले नहीं बना सकेगी सरकार

कांग्रेस की स्कीम के बारे में पूछने पर उन्होंने कहा कि मैं इस बारे में कुछ नहीं कहना चाहती, क्योंकि कांग्रेस अकेली सरकार बनाने नहीं जा रही है, ऐसे में वे ऐसा कैसे करेंगे? सभी क्षेत्रीय पार्टियां अब काफी शक्तिशाली हैं. मैं आपको बता रही हूं कि न तो एनडीए और न ही यूपीए सरकार बनाने जा रही है. हो सकता है कोई नया गुट सामने आए. इसका इंतजार करें. मैं ज्योतिषी नहीं हूं, इसलिए मैं भविष्य नहीं कर सकती. आशा है और गुंजाइश भी कि इन शक्तिशाली क्षेत्रीय ताकतों के साथ ही सरकार का निर्माण हो.
 

Related News

अरविंद केजरीवाल को रोड शो के दौरान एक शख्स ने मारा थप्पड़

May 04, 2019

द करंट स्टोरी। यह पहली बार नहीं है कि जब अरविंद केजरीवाल हमला हुआ है. इससे पहले भी उन पर कई बाहर हमले हो चुके हैं. नई दिल्ली: मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को रोड शो के दौरान थप्पड़ मारा गया है. बताया जा रहा है मोती नगर के पास रोड शो के दौरान उन्हें एक शख्स ने थप्पड़ मारा है. बताया जा रहा है कि पुलिस ने थप्पड़ मारने वाले शख्स को हिरासत में ले लिया...

Comment