• Tuesday, December 06, 2022
Breaking News

पीएम का लोगों से आग्रह, 'मन की बात' के लिए विचार साझा करें

राष्ट्रीय Mar 15, 2021       1059
पीएम का लोगों से आग्रह, 'मन की बात' के लिए विचार साझा करें

द करंट स्टोरी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 28 मार्च (रविवार) को होने वाले इस वर्ष के तीसरे रेडियो कार्यक्रम 'मन की बात' के लिए पूरे भारत से लोगों से अपने विचार और रोचक विषय साझा करने की अपील की। 28 मार्च को 'मन की बात' की 75वीं कड़ी सुबह 11 बजे शुरू होगी। साल 2014 में जब से मोदी सरकार सत्ता में आई है, तब से यह कार्यक्रम महीने के हर आखिरी रविवार को आयोजित किया जाता है।

मोदी ने ट्वीट किया, "28 मार्च .. इस साल की तीसरी 'मन की बात' और दिलचस्प विषयों को उजागर करने का एक और अवसर, और भारतभर से जीवन यात्रा को प्रेरित करने वाला एक अवसर।"

सरकार ने 'माइ गोव' वेबसाइट के माध्यम से एक संदेश में कहा कि आपकी अंतर्दृष्टि को प्रधानमंत्री द्वारा पूरे देश के साथ साझा किया जा सकता है।

विचारों को साझा करने के लिए 5 मार्च से फोन लाइनें खुली हैं और इन लाइनों को बंद करने की अंतिम तिथि 25 मार्च है।

सरकार ने कहा, "प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी उन विषयों पर अपने विचार साझा करना चाहते हैं जो आपके लिए मायने रखते हैं। वह आपको 'मन की बात' के 75वें एपिसोड में संबोधित करने वाले विषयों पर अपने विचारों को साझा करने के लिए आमंत्रित करते हैं।"

"हमें उन विषयों या मुद्दों पर अपने सुझाव भेजें, जिसे आप चाहते हैं कि प्रधानमंत्री आगामी एपिसोड में बोलें। इस खुले मंच पर अपने विचार साझा करें या वैकल्पिक रूप से आप टोल-फ्री नंबर 1800-11-7800 पर भी डायल कर सकते हैं और मोदीजी के लिए अपना संदेश हिंदी या अंग्रेजी में रिकॉर्ड करें। कुछ रिकॉर्ड किए गए संदेश प्रसारण का हिस्सा बन सकते हैं।"

सरकार ने कहा है कि आप 1922 पर एक मिस्ड कॉल भी दे सकते हैं और अपने सुझाव सीधे प्रधानमंत्री को देने के लिए एसएमएस में प्राप्त लिंक का अनुसरण कर सकते हैं।

Related News

नियमों को ताक पर रख सालों से एक ही जगह डटे रेलवे कर्मचारी

Jul 20, 2022

बड़े साहब की द​रियादिली या निहित स्वार्थ! प्रवेश गौतम, भोपाल। भारतीय रेलवे  (Indian Railway) में नियमों का तो अंबार है, लेकिन इनको मानने वालों की भारी कमी है। कहने को तो भ्रष्टाचार (Corruption in Railways) पर जीरो टॉलरेंस (Zero Tolerance Policy) की नीति की बात करते हैं लेकिन कुछ अधिकारियों (Corrupt Railway Officers) के लिए मानो भ्रष्टाचार तरक्की (Promotion in Railway) की सीढ़ी है। यकीन न हो तो भोपाल रेल मंडल (Bhopal Rail Division) की...

Comment