• Wednesday, December 08, 2021
Breaking News

मप्र के तीरंदाजों ने आग में उपकरण गंवाने के बाद भी जीते पदक

मध्यप्रदेश Mar 15, 2021       375
मप्र के तीरंदाजों ने आग में उपकरण गंवाने के बाद भी जीते पदक

द करंट स्टोरी। मध्यप्रदेश के तीरंदाजों ने उत्तराखंड के देहरादून में चल रही 41वीं जूनियर नेशनल तीरंदाजी चैम्पियनशिप में दो पदक जीतने में कामयाबी हासिल की है। यह कामयाबी इसलिए महत्वपूर्ण है, क्योंकि इन तीरंदाजों के उपकरण रेलगाड़ी में यात्रा करते वक्त अग्निकांड में स्वाहा हो गए थे। देहरादून जाने वाली रेलगाड़ी के एक कोच में आग लग गई थी, इस गाड़ी में राज्य की तीरंदाजी टीम भी यात्रा कर रही थी। इस अग्निकांड में टीम के साजो सामान और उपकरण जल गए थे। बाद में इस टीम ने नए उपकरण खरीदी और प्रतियोगिता में हिस्सा लिया, इसमें सोनिया ठाकुर ने रजत और अमित कुमार ने कांस्य पदक जीता है।

राज्य के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने पदक जीतने वालों केा बधाई और शुभकामनाएं देते हुए कहा कि राष्ट्रीय तीरंदाजी चैम्पियनशिप में शामिल होने जाते वक्त हरिद्वार के समीप भीषण रेल हादसे में साजो-सामान और तीरकमान गंवाने वाले मध्यप्रदेश के दोनों तीरंदाजों ने अपना हौसला बनाए रखा और तीरंदाजी के नए उपकरणों से भी राष्ट्रीय तीरंदाजी स्पर्धा में एक रजत और एक कांस्य पदक जीतकर मध्यप्रदेश का मान बढ़ाया है। विषम परिस्थितियों के बावजूद भी खिलाड़ियों द्वारा सफलता प्राप्त करना न केवल मध्यप्रदेश के लिए, बल्कि मेरे लिए भी गौरव और प्रसन्नता की बात है।

भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष और सांसद विष्णु दत्त शर्मा ने कहा है कि मध्यप्रदेश राज्य तीरंदाजी अकादमी के खिलाड़ी सोनिया ठाकुर ने रजत और अमित कुमार ने कांस्य पदक जीतकर प्रदेश का गौरव बढ़ाया है। देहरादून शताब्दी में यात्रा कर रहे मध्यप्रदेश के तीरंदाजी दल के उपकरण अग्नि दुर्घटना में जलकर खाक हो गए थे, ऐसी विषम परिस्थिति में आपका हौसला अन्य खिलाड़ियों को लिए प्रेरणादायक है।
 

Related News

मप्र कांग्रेस में फिर बन रहे टकराव के हालात

Mar 16, 2021

द करंट स्टोरी। मध्य प्रदेश में सत्ता से बाहर कांग्रेस में एक बार फिर भीतरी टकराव बढ़ने के आसार बनने लगे हैं क्योंकि हिंदू महासभा के बाबूलाल चौरसिया को पार्टी की सदस्यता दिलाने पर हमलावर हुए पार्टी के वरिष्ठ नेता मानक अग्रवाल को छह साल के लिए निष्कासित किया गया है। राज्य में कांग्रेस की हमेशा पहचान गुटों के कारण रही है, मगर विधानसभा के चुनाव से पहले पार्टी की कमान कमलनाथ को सौंपे जाने...

Comment